Nanorobot Technology क्या है और कैसे काम करता है?

नमस्कार दोस्तों आज के पोस्ट में हम बात करनेवाले है की नैनोरोबॉट क्या है (Nanobot technology kya hai in Hindi) और ये कैसे काम करता है? और ये भी जानेंगे की भविष्य में इसका किस प्रकार उपयोग किया जा सकता है. अभी तक आपने ये तो सुना होगा की रोबोट क्या है पर क्या आपने कभी नैनोरोबॉट के बारे में सुना है? अगर नहीं तो आज हम इसी के बारे बात करने वाले है. तो चलिए फिर देखते है की ये Nanorobot क्या होता है हिंदी में.

Nanorobots Technology

नैनोरोबॉट क्या है (What is Nanobots Technology in hindi)

Nanorobot एक बेहद छोटा रोबोट है जिसे कुछ nanometer यानी की 1 NM = 10-9 मीटर के nanoscale dimensions में विशिष्ट कार्यों को करने के लिए डिज़ाइन किया गया है. ये बहुत सारे मुश्किल काम करने के लिए बनाया गया है. नैनोरोबॉट एक मशीन है जो चीजों को ठीक से परमाणु स्तर पर कुशलतापूर्वक उपयोग करने के लिए बनाया गया है. इसको बनाने के लिए बहुत सारे scientist काम कर रहे और साथ ही इसमें Engineers का भी बहुत बड़ा योगदान है. नैनोरोबोट शब्द से पता चलता है की यह रोबोट और नैनोमीटर के संयोजन से बनाया गया था. इस आकार के रोबोट के लिए अन्य नाम भी है जैसे की nanobots, Nanomitas और nanites शामिल हैं जिनका आकार 0.01 से 0.1 माइक्रोमीटर इतना है.

nanorobots ये संकल्पना nanotechology से जुडी हुई है. ज्योंकि नैनोटेक्नोलाजी एक ऐसी तकनीक है जिसकी मदद से हम काफी मुश्किल चीज़े आसानी से बेहतर कर सकते है. नैनोरोबॉट निश्चित रूप से मुख्य समय के लिए तैयार नहीं हैं पर जल्द ही ये भविष्य में कठिन काम को आसान करने के लिए बनाया जा रहा है. सुनने में आया है की अमेरिका में स्थित Arizona State University (ASU) के वैज्ञानिकों ने नैनौ रोबोट को DNA Origami विधि के तहत DNA sheet से विकसित किया है. वर्तमान में, अधिकांश नैनोबोट का इस्तेमाल medical research और military क्षेत्रों में किया जा रहा है. जो एक बेहद बड़ी बात है.

प्रकार

यहाँ पर nanorobots के मूल दो प्रकार है. जिनमे से एक है Assemblers और दूसरा है Self-replicators. assembler जो होते है वो सरल cell के आकार वाले नैनोबॉट हैं जो विभिन्न प्रकार के अणुओं या परमाणुओं को समझने में सक्षम हो सकते हैं, और ये नैनोबोट्स विशिष्ट Program द्वारा नियंत्रित होते हैं. self-replicators अनिवार्य रूप से एक बड़ी मात्रा पर खुद को Duplicate करने में सक्षम assembler हैं. इस प्रकार के नैनोबोट्स नक़ल करके बड़े पैमाने पर large scale application निर्माण करने में सहायता करती है.

नैनोरोबॉट कैसे काम करते हैं (How does a Nanorobot Work)

नैनोरोबॉट्स अभी के समय में वैद्यकीय, कृषि और सैन्य विभाग के लिए बनाए जा रहे है. जिससे ये नैनोबोट्स इस क्षेत्र में कोई भी नामुनकिन चीज़ को मुनकिन बनाने में सहयता करेगा.  नैनो टेक्नोलॉजी scientists हमारे शरीर में कोशिकाओं के आकार के बारे में जानकारी देनेवाले छोटे रोबोट विकसित कर रहे हैं जिनमें propulsion system, sensors, manipulators और यहां तक ​​कि एक on-board computer भी है जो nanoscale objects पर कार्य कर सकता है. अभी अगर हम इसके काम की बात करे तो ये medical  industry  में काफी उछाल ला रहा है. और आपको तो पता ही है की आज कल दुनिया में ऐसी बीमारियाँ फ़ैल रही है जिनका इलाज करना बहुत कठीन हो रहा है.

उदाहरण

मान लीजिए कि आप एक सामान्य बीमारी उपचार के लिए डॉक्टर के पास जाते हैं. तो डॉक्टर आपको चेकउप करके आपको दवाईयाँ देते है. और कभी कभी डॉक्टर को भी आपके बीमारी के बारे में झट से पता नहीं चलता. तो ये जो नैनोबोट्स होते है ये इसी वक्त काम में आते है. इस प्रोसेस में डॉक्टर उपचार देने के बजाय वह आपके लिए एक विशेष टीम को भेजते है जो आपके रक्त प्रवाह में छोटे रोबोट लगाते है. इसके बाद ये रोबोट आपकी बीमारी के कारण को पहचानेंगे और जो भी infected area है उसके लिए दवा की खुराक प्रदान करेंगे. इससे ये होगा की डॉक्टर को भी उस बीमारी के बारे में पता चलेगा और वो आपके लिए आवश्यक्यता के अनुसार दवा प्रबंधन करेंगे. इससे क्या होगा की आपको अपनी समस्या के कारण के बारे में जल्दी से पता चल जाता है. ये रोबोटों को नैनोरोबॉट्स के रूप में जाना जाता है जो स्वास्थ्य देखभाल के भविष्य को बहुत बदलते हैं जिसमे ये नैनोबोट्स cancer से haemophilia तक सबकुछ ठीक करते हैं.

वैज्ञानिकों के शोध और सिद्धांतों के अनुसार, नैनोरोबॉट्स कम से कम दो तरफा communication कर सकते है. उस में Sound waves के माध्यम से, इन रोबोटों को बाहरी स्रोत से शक्ति या यहाँ तक ​​कि पुन: प्रोग्रामिंग निर्देश भी प्राप्त होंगे और उसके बाद वह ध्वनिक संकेतों का जवाब देंगे. इसमें stationery नैनोरोबॉट का एक विशेष नेटवर्क को आपके पूरे शरीर में तैनात किया जाएगा जो शरीर में घूम रहे हर एक Active नैनोरोबॉट को Track किया जाएगा और परिणामों की रिपोर्ट करेगा. इससे क्या होगा की चिकित्सक या डॉक्टर न केवल रोगी की Progress की उपर निगरानी कर सकते हैं बल्कि उपचार के दूसरे stage में भी Progress के लिए नैनोरोबॉट के निर्देश भी बदल सकते हैं. फिर इलाज के बाद, इन नैनोरोबॉटस को तुरंत शरीर के बाहर निकाले जाएंगे.

Read: WhatsApp Business App क्या है और इसमें Register कैसे करे?
Read: Instamojo क्या है और कैसे काम करता है?

नैनोरोबॉट कितने प्रकार के होते है (Types of Nanorobot)

यहाँ पर नैनोरोबॉट्स अलग अलग प्रकार के होते है जैसे की,

  • Medical field
  • Agriculture field
  • Mechanical field
  • Military field

हर जगह पर इसके अलग प्रकार होते है.

  1. Nanorockets
    वैज्ञानिकों के कुछ team ने हाल ही में जैविक अणुओं के साथ nanoparticales को जोड़कर rocket के लिए एक उच्च गति और रिमोट-नियंत्रित nanoscale version का निर्माण किया है. ताकि इसका उपयोग किसी भी पर्यावरण में किया जा सके. जैसे की शरीर के किसी भी लक्षित क्षेत्र में दवाएँ वितरित करने के लिए.
  2. Nanoswimmers
    ETH Zurich and Technion शोधकर्ताओं ने एक elastic” “nanoswimmer” Polypyrrole nanowire जो लगभग 15 mm लंबे और 200 nanometer मोटे बोट्स विकसित किए हैं जो जैविक द्रव को वातावरण से लगभग per second 15 mm पर जा सकते हैं इनका उपयोग कैंसर कोशिकाओं को लक्षित करके रक्त प्रवाह के माध्यम से तैरने के लिए और दवाओं को वितरित करने के लिए कार्यात्मक किया जा सकता है जो चुंबकीय रूप से नियंत्रित होगा.
  3. Sperm-inspired Microrobots
    University of Twente (Netherlands) and German University in Cairo (Egypt) शोधकर्ताओं की एक टीम ने शुक्राणु-प्रेरित माइक्रोबोबॉट विकसित किए हैं, जिन्हें कमजोर चुंबकीय क्षेत्रों को कम करने के द्वारा नियंत्रित किया जा सकता है. ये जो माइक्रोबोबॉट है वो सूक्ष्म हेरफेर और लक्षित थेरेपी कार्यों के लिए complex जगह में उपयोग किए जाएंगे.
  4. Bacteria-powered Robots 
    “Drexel University के इंजीनियरों ने Microscopic bacteria संचालित रोबोटों को अपने पर्यावरण में बाधाओं का पता लगाने और उनके चारों ओर navigate करने में मदद करने के लिए और विद्युत क्षेत्रों का उपयोग करने के लिए एक विधि विकसित की है. इसका उपयोग में दवा को वितरित करना, stem कोशिकाओं को उनके विकास के लिए निर्देशित करने, या सूक्ष्म संरचना का निर्माण करना इसमें शामिल है.

हेल्थकेयर के उपयोग में नैनोबोट्स के प्रकार (TYPES OF NANOROBOTS IN HEALTHCARE)

यहाँ पर मैं आपको कुछ नैनोरोबॉट nanotechnology in medicine के बारे में जानकारी देनेवाला हूँ जिन्हें दवा(medicine) में उपयोग के लिए विकसित किया जा रहा है:

Microbivore Nanorobots

ये नैनोरोबॉट हमारे शरीर में सफेद रक्त कोशिकाओं के समान काम करेंगे, और साथ में ये bacteria को नष्ट करने में बहुत तेज़ होने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं. antibiotics प्रभावी होने के लिए आवश्यक हफ्तों के विपरीत, इस प्रकार के नैनोरोबॉट्स पेशेंट के शरीर में bacterial infections को खत्म करने में सक्षम होंगे. इसमें Microbivore नैनोरोबॉट्स  भी डिज़ाइन किए गए हैं ताकि antibodies रोबोट की demand कर रहे विशेष bacteria से जुड़ी हों. जीवाणु antibody से जुड़ने के बाद, एक हाथ बैक्टीरिया को पकड़ लेता है और इसे नैनोरोबॉट के अंदर ले जाता है, और उसके बाद ये नष्ट हो जाता है और साथ ही Bacteria को रक्त प्रवाह में harmless टुकड़ों के रूप में छोड़ा जाता है.

Respirocyte Nanorobots

ये नैनोरोबॉट हमारे शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं के समान काम करेंगे. हालांकि, वे प्राकृतिक लाल रक्त कोशिकाओं की तुलना में अधिक oxygen ले जाने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं. यह डिज़ाइन anemia से पीड़ित मरीजों के लिए बहुत उपयोगी हो सकता है. इन nanorobots में एक tank होता है जिसमें उच्च दबाव रक्त प्रवाह में ऑक्सीजन की एकाग्रता निर्धारित करने की क्षमता होती है, और एक valve भी है जो ऑक्सीजन जारी करता है जब sensor निर्धारित करता है कि अतिरिक्त ऑक्सीजन की आवश्यकता है.

Clottocyte Nanorobots

ये रोबोट हमारे रक्त में Platelets के समान काम करते हैं. platelets एक wound में एक साथ चिपकने के लिए एक छड़ी में चिपकते हैं उससे वे रक्त प्रवाह को रोकते हैं. इसमें wound के आकार के आधार पर, एक clot बनाया जाता है पर clot बनने से पहले महत्वपूर्ण रक्त नुकसान भी हो सकता है. इस प्रणाली में  fiber store जब तक वे wound का सामना नहीं करेंगे तब तक उस point पर, नैनोरोबॉट अपने तंतुओं को फैलाएंगे, जो platelets के उस समय के एक अंश में एक clot बनाने के लिए एक साथ आएँगे.

Cellular Repair Nanorobots

इन छोटे नैनोरोबॉट्स को surgical प्रक्रियाओं को अधिक सटीक(exact) करने के लिए बनाया जा सकता है. इस प्रकार के नैनोरोबॉट तुलनात्मक रूप से बेकार scalpel के कारण होने वाले अधिकांश नुकसान को रोक सकते हैं.

नैनो और सूक्ष्म मशीनों का उपयोग (Application of Nano and Micro-Machines)

Cancer Treatment
cancer की कोशिकाओं को पहचानना और उसे नष्ट करना अधिक सटीक और प्रभावी ढंग से मदद करता है.

Medical Imaging
कुछ tissues में इकट्ठा नैनोकणों का निर्माण करना और फिर magnetic resonance imaging (MRI) के साथ शरीर को scan करके मधुमेह जैसी समस्याओं को उजागर करने में मदद कर सकता है.

Information Storage Devices 
Harvard’s Wyss संस्थान में एक bioengineer और आनुवंशिकीविद ने DNA के एक ग्राम में लगभग 700 terabytes – डेटा के 5.5 Petabits को सफलतापूर्वक संग्रहीत किया है, जो पिछले DNA डेटा Density record को हजारों बार तोड़ रहा है.

Energy Systems
नैनोरोबोटिक्स अधिक कुशल नवीकरणीय ऊर्जा प्रणाली विकसित करने में एक भूमिका निभा सकते हैं. जिससे वे हमारी वर्तमान मशीनों को अधिक Energy efficient बना सकते हैं जैसे कि उन्हें समान या समान या उच्च क्षमताओं पर काम करने के लिए कम ऊर्जा की आवश्यकता होगी.

Smart Windows and Walls 
Electrochromic उपकरण, ये लागू क्षमता के तहत रंग को गतिशील रूप से बदलते हैं और व्यापक रूप से ऊर्जा कुशल smart windows में उपयोग के लिए अध्ययन किए जाते हैं. इसकी मदद से कमरे के आंतरिक तापमान को नियंत्रित कर सकते हैं, खुद को साफ कर सकते हैं और बहुत कुछ कर सकते हैं.

Ocean-cleaning Microsponge
IOP Publishing’s के journal नैनोटेक्नोलॉजी में प्रकाशित एक अध्ययन में पिछले प्रयासों की तुलना में तीन गुना अधिक कुशलता से Fertilizers, कीटनाशकों और Pharmaceuticals जैसे प्रदूषित पानी को कार्बन nanotube स्पंज की मदद से पूरा पानी साफ कर देता है.

Health Sensors 
ये sensors हमारे रक्त में blood chemistry पर निगरानी कर सकते हैं और उसके बाद हमें सूचित करते हैं कि कुछ चीज़े out of whack या फिर खराब भोजन या शरीर में सूजन का पता लगाना, और भी बहुत कुछ.

Read: WhatsApp Business App क्या है और इसमें Register कैसे करे?
Read: Payment Gateway क्या है और इसे कैसे बनाए?

Nanobots का इस्तेमाल कहाँ पर किया जा सकता है?

Cancer Detection & Treatment 
नैनोरोबॉट protein के मिश्रण से बने होते हैं और उसे transferrin के रूप में जाना जाता है. जो ट्यूमर कोशिकाओं का पता लगाने में सक्षम होता है. कैंसर कोशिकाएं अपनी सतह के चारों ओर रासायनिक संतुलन को बहुत तेजी से बदल सकती हैं, कभी-कभी कैंसर की कोशिकाओं को हटाने और Damaged tissue के आसपास रासायनिक संतुलन को बहाल करना बहुत मुश्किल हो जाता है, ये नैनोरोबॉट कोशिका तक आसानी से पहुंच सकते हैं और कैंसर को नुकसान पहुंचा सकते हैं.

Correcting Hormone Deficiencies
हमारे हार्मोनल संरचना में कुछ बदलाव हमारे शरीर में कई बीमारियों के बढ़ने का कारण बन जाते हैं, ये हार्मोनल परिवर्तन शरीर के लिए अच्छा नहीं हो सकते हैं. शरीर में होने वाले हार्मोनल परिवर्तनों को ठीक करने में नैनोरोबॉट महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है.

Heart Surgeries
मेडिसिन में नैनोरोबॉट्स का एक बड़ा लाभ यह है कि यह बिना किसी प्रतिबंध के किए जाने वाले विभिन्न complex surgery प्रक्रियाओं में सहायता कर सकता है.

Blood Related issues 
हमारे शरीर के कामकाज में कई रक्त से सम्बंधित मुद्दे बड़ी समस्या बन सकते हैं. गंभीर बीमारी के लिए रक्त का प्रभाव मूल कारण भी बन सकता है, और इसी कारण नैनोरोबॉट शरीर के किसी भी रक्त नसों में बह कर खतरे का पता लगा सकते है.

Killing infections
नैनोरोबॉट का एक बड़ा लाभ यह है कि उनका उपयोग शरीर में होने वाले संक्रमणों को मारने और हमारे ज्ञान के बिना बढ़ने के लिए किया जा सकता है. जब तक वे किसी भी cell के संपर्क में नहीं आते हैं, तब तक वे किसी भी दवा से प्रतिरक्षा बने रहते हैं.

Genetic Therapy
कोशिका में पाए गए proteins और DNA की आणविक संरचना की तुलना करके Genetic बीमारी का इलाज नैनोरोबॉट द्वारा किया जा सकता है.

Dentistry 
दांतों के उपचार के लिए, नैनोरोबॉट्स का इस्तेमाल dentifrobots के रूप में किया जाता है. इससे अनियमित दातों को सीधा किया जा सकता है.

Treatment & Diagnosis of Diabetes 
Human के metabolism और ग्लूकोज अणु रक्त प्रवाह में maintain रखने का काम करता है. और शरीर के अंदर insulin इंजेक्शन लगाने की आवश्यकता को निर्धारित करने के लिए, glucose monitoring नैनोरोबॉट्स chemosensor का उपयोग करता है.

नैनोरोबॉट्स का सैन्य विभाग में किस प्रकार इस्तेमाल हो सकता है (Nanorobots Used in Military Department)

Nanorobots के research ये पता चला है की इसका उपयोग सेना की सैनिकों की सुरक्षा को लेकर मुख्य रूप से केंद्रित करने के लिए किया जा सकता है. इनका उपयोग एक बेहतर शरीर कवच के रूप में किया जा सकता है. अगर कोई भी सैनिक युद्ध के दौरान घायल होता है तो वो सैनिक स्वयं की मरम्मत करने में सक्षम होगा. ये body armor जादुई सूट की तरह नहीं होगा जैसे की आप विज्ञान कथा फिल्मों में देखते हो. पर इसके बजाय इस क्षेत्र में तैनात मौजूदा शरीर कवचों पर सुरक्षात्मक क्षमताओं को बढ़ाने में आगे के पीढ़ी की बहुत बड़ी छलांग होगी.

निकट भविष्य में नैनोरोबॉट का उपयोग घायल लोगों की तेजी से मरम्मत करने में और युद्ध के मैदान पर Damaged equipment की मरम्मत और ऐसे devices को ठीक किया जा सकता है जो practical knowledge नहीं होने के कारण कभी कभी ठीक करने में दिक्खत आती है. द्वितीय विश्व युद्ध में परमाणु Bomb के आने के बाद, War technology के साथ विकसित पहले हथियारों का सामना करने में अपेक्षित कठिनाई के कारण नैनोरोबॉट War के technology में सबसे बड़े विकास में से एक साबित हो सकता है.

नैनोरोबॉट्स भविष्य में किस प्रकार काम आ सकता है?

आपने देखा होगा की ज्यादातर विज्ञान कथा फिल्मों में नैनोबोट्स के बारे में चित्रण दिखाया जाता है, और ये मुख्य रूप से medical या military के उपयोगों में होता है. इनमें से कुछ चित्रण nanotheory पर आधारित होते हैं. जो नैनोरोबॉट पदार्थ को पुनर्निर्माण करने और उचित रूप से प्रोग्राम किए जाने पर Food, Protein या अन्य microprocessors को सक्षम बनाने की अनुमति देता है.

  1. भविष्य में, नैनोरोबॉट दवा को क्रांतिकारी बना सकता है. डॉक्टर बैक्टीरिया के आकार के छोटे बोटों का उपयोग करके दिल की बीमारी से लेकर कैंसर तक सबकुछ का इलाज कर सकते हैं, जो आज के रोबोटों से बहुत छोटा है और ये रोबोट रोग को खत्म करने और अन्य स्थितियों का इलाज करने के लिए अकेले या टीमों में काम कर सकता है.
  2. भविष्य में नैनोरोबॉट्स का उपयोग स्वयंचालित प्रतिकृति के रूप में नए नैनोरोबॉट बनाने के लिए किया जाएगा, जिसे कार्यों को पूरा करने के लिए Swarm principles के साथ जोड़ा जा सकता है.
  3. अधिकांश नैनोरोबॉट research के अनुसार medical science पर केंद्रित है. चूंकि नैनोरोबॉट virus, cancer और bacteria के समान पैमाने पर काम कर सकते हैं, इससे वे मानव शरीर में सीधे इन घुसपैठियों से लड़ने, स्वास्थ्य scan करने, या शरीर के Tissues और अंगों को optimal काम करने के लिए सुनिश्चित वादा कर सकते है.
  4. छोटे farm factor device या बड़े औद्योगिक प्रतिष्ठानों का निर्माण करने के लिए नैनोबॉट्स का इस्तेमाल इलेक्ट्रॉनिक्स और विनिर्माण उद्योगों में भी किया जा सकता है.
  5. Future में नैनोबॉट्स का उपयोग पर्यावरणीय सफाई करने जैसे तेल फैलाने, जहरीले Dump Site, प्रदूषित जल स्रोतों आदि की सफाई में किया जा सकता है.
  6. Nano Technology का भविष्य में गंभीर बीमारियों या चोटों वाले medical patient के दृष्टिकोण को बेहतर बना सकता है और डॉक्टर theoretical रूप से Nano surgery का अध्ययन कर सकते हैं और आणविक स्तर पर बीमारी और किसी injure पर हमला करने में सक्षम हो सकते हैं.

नैनोबोट्स के फायदे और नुकसान क्या है (Advantages & Disadvantages of nanobots)

फायदे

  1. नैनोरोबॉट की मदद से, हम मानव शरीर और मस्तिष्क की जटिलता को और समझ सकते हैं. और उनकी सूक्ष्म विशेषताओं के कारण वे मस्तिष्क कोशिकाओं के माध्यम से surf कर सकते हैं और आगे के अध्ययन के लिए आवश्यक सभी संबंधित जानकारी उत्पन्न कर सकते हैं.
  2. सबसे अच्छा हिस्सा नैनोबोट इतना छोटा है कि यह नग्न आंखों से दिखाई नहीं देता है, इसलिए उन्हें मानव शरीर में बहुत आसानी से इंजेक्शन दिया जा सकता है.
  3. इस दुनिया में लाखों लोग डरावनी बीमारी से अधिक लोग प्रभावित हैं। वर्तमान में बीमारी का इलाज करने के लिए कोई Permanent vaccine या दवा उपलब्ध नहीं है. इसका एक फायदा ये है की वर्तमान में उपलब्ध दवाएं रोगी के जीवन को केवल कुछ वर्षों तक बढ़ा सकती हैं, इसलिए इन नैनोरोबॉट का आविष्कार रोगियों को बीमारी से छुटकारा पाने के लिए तैयार करेगा.
  4. चूंकि नैनोरोबॉट किसी भी हानिकारक गतिविधियों को उत्पन्न नहीं करता है, इसलिए इसका कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है और यह केवल विशिष्ट साइट पर काम करता है.
  5. विकास की प्रारंभिक लागत केवल उच्च है लेकिन batch processing द्वारा manufacturing cost को कम कर देता है.

नुकसान

  1. नैनोरोबॉट बहुत सटीक होना चाहिए, अन्यथा हानिकारक प्रभाव हो सकते हैं.
  2. प्रारंभिक Design cost बहुत अधिक है.
  3. नैनोरोबॉट का डिजाइन करने में बहुत ही complex है.

Conclusion

Finally अब आपको नैनोरोबॉट क्या है (Nanobot technology kya hai in Hindi) और ये कैसे काम करता है? से जुडी सभी जानकारी मिल गयी होगी. इसके बाद भी अगर आपको कुछ doubt है तो आप मुझे बेझिझक पूछ सकते है मुझे आपके सवालों का जवाब देने में खुशी होगी. और उसी तरह आपको nanotechnology के बारे में और कुछ जानकारी चाहिए जो मेरे से छूट गयी हो तो वो आप comment में मुझे जरूर बता सकते है. अगर ये post आपको अच्छी लगी हो तो ज्यादा से ज्यादा लोगों तक इसे share करना. Because share करने से हमारा भी ज्ञान बढ़ता है.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here